दरबार बाबा बुढन शाह जी का दो दिवसीय वार्षिक जुड़ मेला अमिट यादें छोड़ जाता है

शिव कौड़ा फगवाड़ा 25 मई : होशियारपुर रोड बाईपास हाजीपुर फगवाड़ा के पास बाबा बुड्ढन शाह जी का दो दिवसीय वार्षिक जुड़ मेला पूरे क्षेत्र के भक्तों के सहयोग से गद्दी नशीन प्रदीप मुहम्मद के नेतृत्व में बड़ी श्रद्धा के साथ आयोजित किया गया। मेले के पहले दिन दीप जलाए गए और झंडा रस्म के … Read more

उच्च रक्तचाप और मधुमेह के लिए 150 से अधिक लोगों की जांच की गई

लुधियाना, 21 अप्रैल : हैम्पटन होम्स, चंडीगढ़ रोड में दो दिवसीय मुफ्त स्वास्थ्य जांच शिविर शनिवार शाम को संपन्न हुआ। शिविर का आयोजन हैम्पटन स्काई रियल्टी लिमिटेड द्वारा अपने सीएसआर (कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी) कार्यक्रम के तहत किया गया था। मिशन स्वास्थ्य कवच “एक ने 20” के तहत आयोजित शिविर में उच्च रक्तचाप और मधुमेह की … Read more

कर्मयोगी की उड़ान’ के नाम से नए सशक्त अभियान की ट्राइडेंट ग्रुप ने की शुरुआत

Ludhiana 20 April  : टेक्सटाइल मैन्युफैक्चरिंग के क्षेत्र में वैश्विक अग्रणी कंपनी ट्राइडेंट ग्रुप ने ट्राइडेंट के मिशन दिवस पर ‘कर्मयोगी की उड़ान’ नामक आकर्षक नया अभियान शुरू किया है। ट्राइडेंट के गुमनाम नायकों का सम्मान करते हुए इस अभियान के जरिए इन कर्मयोगियों की उल्लेखनीय उपलब्धियों को प्रदर्शित किया जाएगा और बताया जाएगा कि … Read more

कितना सही साबित होगा कांग्रेस का राजा दिग्विजय सिंह पर दांव

पवन वर्मा-विनायक फीचर्स देश की राजनीति में अपने बयानों को लेकर चर्चित रहने वाले दिग्विजय सिंह इन दिनों मध्य प्रदेश की जमीं पर जमकर पसीना बहा रहे हैं। शायद उनके जीवन का यह पहला और आखिरी चुनाव होगा जिसमें उन्हें भरी गर्मी में राजे-रजवाड़े और बड़े नेता की शान शौकत छोड़कर इस तरह से जमीन … Read more

थम गया शोर, अब डोर टू डोर!

संदीप शर्मा अठारहवीं लोकसभा के चुनावों के लिए मतदान का शुभारंभ 19 अप्रैल को होना है। लोकसभा चुनावों के पहले चरण के चुनाव प्रचार का शोर 17 अप्रैल की शाम 5 बजे थम गया है। निष्पक्ष, निर्भीक और पारदर्शितापूर्ण चुनाव के लिए निर्वाचन आयोग के कठोर नियम हैं। यह कठोर नियम इसलिए भी जरूरी हो … Read more

सियासत में -‘ सबसे कठिन जाति अपमाना ‘

भारत में आज से 9 दिन तक शक्ति की उपासना का पर्व शुरू हो गया है लेकिन दुर्भाग्य कि लोग इन नौ दिनों में भी सत्ता की उपासना में डूबे हैं। अगर सच्चे सनातनी होते तो इन नौ दिनों में चुनावी रैलियां और रोड शो छोड़कर देवी की पूजा-अर्चना करते। एक-दूसरे को गरियाते,आँखें दिखाते या … Read more