पंजाब में भाजपा के तीन सिख नेताओं की हत्या करने की धमकी, चंडीगढ़ ऑफिस में भेजी गई है चिट्‌ठी

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

Listen to this article

लिफाफे से कैमिकल का पैकेट भी निकला, खालिस्तान और पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे हाथ-लिखी चिट्‌ठी में

चंडीगढ़/यूटर्न/9 जुलाई। अभी लुधियाना में शिवसेना नेता पर जानलेवा हमले का मामला ठंडा भी नहीं पड़ा कि पंजाब में बीजेपी के तीन सिख नेताओं की हत्या करने धमकी मिल गई। धमकी भरी हाथ से लिखी चिट्‌ठी बीजेपी के चंडीगढ़ ऑफिस में आई। उसके लिफाफे कुछ ज्वलनशील (कैमिकल जैसा) किसी पदार्थ का पैकेट भी निकला।

चिट्‌ठी में भाजपा नेताओं को चेतावनी दी है कि वे पार्टी छोड़ दें या फिर दुनिया छोड़ दें। उसमें खालिस्तान और पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लिखे हैं। जिन नेताओं को धमकी मिली, उनमें भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव मनजिंदर सिंह सिरसा, भाजपा सिख कोर्डिनेशन कमेटी व राष्ट्रीय रेलवे कमेटी के मेंबर तेजिंदर सिंह सरां और भाजपा महासचिव परमिंदर बराड़ शामिल हैं। इनके अलावा इनमें भाजपा के प्रदेश संगठन महासचिव श्रीनिवासुलु का भी नाम लिखा है।

भाजपा नेताओं ने इस बारे में चंडीगढ़ पुलिस को शिकायत दी है। जिसके बाद पुलिस ने चिट्‌ठी में निकले कैमिकल जैसे पदार्थ का पैकेट जांच के लिए भेज दिया। बताते हैं कि इस मामले को लेकर बीजेपी नेता पंजाब और चंडीगढ़ के डीजीपी से मिलने वाले हैं।

चिट्ठी में यह लिखा गया :  ​​​​​​भाजपा नेता​ परमिंदर सिंह बराड़ और तेजिंदर सरां से कहा है कि हमने पहले भी सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए आपको चेतावनी दी थी कि आप लोगों ने अपने सिर पगड़ी में बांध रखी हैं। आप बीजेपी और आरएसएस के साथ मिलकर सिखों और पंजाब के लोगों को धोखा दे रहे हैं। आप आरएसएस के साथ सिख मामलों में दखल दे रहे हैं, हमने आपको पहले भी चेतावनी दी थी। आप या तो बीजेपी छोड़ दें या हम आपको इस दुनिया से उठा देंगे।

किसान आंदोलन का भी जिक्र : चिट्ठी में यह भी लिखा है कि आपने बीजेपी के साथ मिलकर किसान आंदोलन तोड़ने का काम किया। आप सिख धर्म के गद्दार हैं। आप और लोगों को भी बीजेपी में शामिल करने की योजना बना रहे हैं। आप सिखों और मुसलमानों के रिश्ते खराब करने का काम कर रहे हैं। भाजपा और संघ आपका इस्तेमाल कर बाद में आपको बाहर निकाल देंगे। कई लोग सिखों और पंजाब को बर्बाद करने आए और भगा दिए गए। ना तो सिख खत्म हो पाए और न ही पंजाब। तुमने पंजाब को बर्बाद कर दिया है। जिसे हम अब साफ कर देंगे और बहुत जल्द हम तुमसे मिलेंगे।

संघ-भाजपा से कड़ी नाराजगी : इस चिट्‌ठी में लिखा है कि हम जानते हैं कि चंडीगढ़ में बैठकर तुम हमारे खिलाफ साजिश कर रहे हो, हम जल्द ही इसका बदला लेंगे। सिरसा भी आरएसएस की भाषा बोलता है, उसे भी सबक सिखाएंगे। सिरसा ने दिल्ली एसजीपीसी बीजेपी-आरएसएस को सौंप दी। हम उसे नहीं छोड़ेंगे। जल्द ही दिल्ली डीएसजीएमसी के गुरुद्वारों को बीजेपी मुक्त कराएंगे। तुम जैसे कई गद्दारों ने बीजेपी सरकार से मिल कनाडा, पाकिस्तान और भारत में हमारे भाइयों को मारा, हम इसका बदला लेंगे।

श्रीनिवासुलू को पंजाब छोड़ने की वार्निंग : चिट्ठी में लिखा है कि हम भाजपा के प्रदेश संगठन महामंत्री श्रीनिवासुलू को भी चेतावनी देते हैं कि वह जल्द पंजाब छोड़ दें, क्योंकि हमारी उनसे कोई दुश्मनी नहीं। लेकिन हम सिखों के किसी भी गद्दार को नहीं छोड़ेंगे। खालिस्तान जिंदाबाद है और रहेगा। अंत में खालिस्तान जिंदाबाद, पाकिस्तान जिंदाबाद, खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स। हरदीप निज्जर जिंदाबाद, अवतार सिंह खंडा जिंदाबाद, परमजीत सिंह पंजवड जिंदाबाद, मौलाना रहीमुल्ला तारिक जिंदाबाद, पीर बशीर अहमद जिंदाबाद, मौलाना जीआर रहमान जिंदाबाद लिखा है।

———–

Leave a Comment